Categories: गुजरात

गुजरात फैमिली सूइसाइड केसः 7 लाख के होम लोन ने छीन लिया पूरा परिवार? गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस


Edited By Raghavendra Shukla | अहमदाबाद मिरर | Updated:

एक ही परिवार के 6 लोगों ने की आत्महत्या
हाइलाइट्स
  • वाटवा में एक ही परिवार के चार बच्चों समेत 6 लोगों ने की आत्महत्या
  • मृतकों से एक ने 7 लाख के होम लोन से विन्जोल में लिया था फ्लैट
  • जनवरी में छोड़ा था फ्लैट, बैंक ने दरवाजे पर चिपकाया था नोटिस

अहमदाबाद

गुजरात के अहमदाबाद शहर में वाटवा जीआईडीसी इलाके की रहने वाली हेतल और जोशनाबेन को यह अंदाजा नहीं था कि थोड़ी देर में आने के लिए कहकर बाहर जा रहा उनका पूरा परिवार अब कभी वापस नहीं लौटेगा। पुलिस ने दोनों के पतियों गौरांग और अमीश पटेल के साथ उनके बच्चों मयूर, कीर्ति, ध्रुव और साल्वी के शव विन्जोल के एक फ्लैट से गुरुवार को बरामद किए थे।

पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है और यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि गौरांग और अमीश के बच्चों समेत आत्महत्या करने के पीछे क्या वजह है। हालांकि, पुलिस के हाथ अभी कुछ खास हासिल नहीं हुआ है। जोशना और हेतल ने पूछताछ में परिवार में किसी तरह की आर्थिक परेशानी न होने का दावा किया। उन्होंने बताया कि परिवार में किसी तरह की आर्थिक तंगी नहीं थी और इस वजह से कोई टेंशन परिवार में नहीं थी।

तीन साल पहले लिया था फ्लैट

अमरीश पटेल (42) और गौरांग पटेल (40) सगे भाई थे और दोनों वाटवा इलाके के हाथीजान में अपने परिवार के साथ रहते थे। गौरांग एक टेक्सटाइल फर्म में काम करता था जबकि अमरीश कैब चलाता था। तीन साल पहले गौरांग ने विन्जोल में प्रत्योशा रेजिडेंसी में एक फ्लैट लिया था। अपनी पत्नी हेतल और दो बच्चों ध्रुव तथा सान्वी के साथ गौरांग वहीं रहता था। अमरीश अपनी पत्नी जोशनाबेन और बच्चों मयूर, कीर्ति के साथ हाथीजान में ही ठहरा था।

जनवरी में छोड़ दिया मकान

इसी साल के जनवरी की बात है जब गौरांग ने प्रत्योशा रेजिडेंसी का अपना मकान छोड़ दिया और वाटवा में पारिजात फ्लैट्स में किराए का कमरा लेकर परिवार के साथ वहीं रहने लगा। फरवरी में प्रत्योशा रेजिडेंसी के उनके आवास पर किसी प्राइवेट बैंक ने 7 लाख के होम लोन को लेकर एक नोटिस चिपका दिया था। रेजिडेंसी में रहने वाले गौरांग के पड़ोसी बताते हैं कि वे काफी मिलनसार लोग थे और सोसाइटी के हर तरह के फंक्शन में हिस्सा लेते रहते थे। उन्होंने बताया कि उन्हें भी इसकी जानकारी नहीं है कि वे लोग यह जगह छोड़कर क्यों चले गए?

बैंक ने चिपकाया नोटिस

पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि गौरांग और अमरीश की आत्महत्या के पीछे कहीं यह होम लोन तो नहीं है? पुलिस यह भी पता लगाने की कोशिश कर रही है कि प्रत्योशा रेजिडेंसी का फ्लैट क्या दोनों भाइयों के नाम से था या केवल गौरांग का उस पर स्वामित्व था?

यह भी पढ़ेंः संदिग्ध हालत में फ्लैट की सीलिंग से लटके मिले एक ही परिवार के 6 लोगों के शव

बच्चों के साथ गए थे बाहर

दोनों भाई बुधवार की सुबह अपने-अपने बच्चों के साथ घर से निकले थे। हेतल ने बताया कि दोनों भाई एक-दूसरे के काफी करीब थे। उन्हें लगा था कि बच्चों के साथ उनके पति अपने भाई के घर गए हैं। जब वे लोग काफी देर तक घर नहीं पहुंचे तब उनकी तलाश शुरू की गई। प्रत्योशा रेजिडेंसी के सामने गौरांग की दो पहिया और अमरीश की कैब खड़ी मिली। फ्लैट का दरवाजा अंदर से बंद था।

बाहर से खटखटाने के बाद जब अंदर से कोई रेस्पॉन्स नहीं आया तो मृतकों के परिजन ने पुलिस को सूचित किया। जब कमरे का ताला तोड़ा गया तो दोनों भाई समेत चार बच्चों का शव पंखे से लटकता मिल।

नशीला पदार्थ खिलाकर बच्चों को बहकाया?

जोन 6 के डीसीपी बिपिन अहिरे ने बताया कि दोनों भाइयों के शव ड्रॉइंग रूम में मिले थे जबकि बच्चियों के शव किचन से बरामद किए गए थे। दोनों बच्चे बेडरूम में पंखे से लटके मिले। पुलिस ने बताया कि पहली दृष्टि में ऐसा लग रहा है कि दोनों भाइयों ने बच्चों को कुछ खिलाकर बहकाया है। हालांकि, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही इस बारे में कुछ कहा जा सकता है। एक अन्य पुलिस अधिकारी ने बताया कि मौके से चिप्स के कुछ पैकेट और रस्सियां बरामद की गई हैं, जो उसी दिन खरीदी गई थीं। मृतक के परिजन ने किसी के खिलाफ उत्पीड़न का केस दर्ज नहीं कराया है।



Source link

admin

Recent Posts

भोपाल में बदमाशों की शामत, पोर्टल पकड़ रहा है अपराधी, ऑन द स्पॉट फैसला

भोपाल पुलिस पोर्टल के ज़रिए अपराधियों को कर रही है गिरफ्तार पुलिस (police) ने इस सिस्टम व्हीकल डिटेक्शन पोर्टल नाम…

28 mins ago

WhatsApp Web के नए फीचर से बदल जाएगा चैट का लुक, ऐसे आसानी से करें ON

WhatsApp Web पर डार्क मोड एक्टिवेट करना आसान है. अगर आप भी अपने वॉट्सऐप वेब पर नई डार्क थीम इस्तेमाल…

1 hour ago

Jaipur: सस्पेंस से उठा पर्दा, पूर्व सीएस डीबी गुप्ता होंगे सीएम के सलाहकार, आनंदी बनीं अलवर कलक्टर

2 जुलाई को जारी तबादला सूची में डीबी गुप्ता को मुख्य सचिव के पद से हटा दिया गया था. राज्य…

1 hour ago

सड़कों पर बेखौफ घूमते दिखे जालंधरवासी, पुलिस ने दिनभर में 306 के चालान काटे

पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि अब तक 13,928 लोगों के चालान काटकर 63.09 लाख रुपए जुर्माना वसूला…

2 hours ago

Benefits Of Flax Seeds: औषधीय गुणों से भरपूर हैं अलसी के बीज, मोटापा घटाने की हैं रामबाण दवा

अलसी के बीज से होने वाले फायदों को सुनकर आप हैरान रह जाएंगे. अलसी के बीज (Flax Seeds) कई तरह…

2 hours ago

कॉरपोरेट चटकारे: रिलायंस रिटेल के साथ बियानी के सौदे पर कोविद बादल; इस मित्तल के लिए पैसे की बर्बादी होती है, और कोलकाता उत्तराधिकारियों ने एक तंत्र-मंत्र फेंका

सूट और बातें | ET, कॉरपोरेट गलियारों और पॉलिसी पार्लरों में निराधार फुसफुसाहट और बड़बड़ाहट के साप्ताहिक राउंडअप: जीवन समंदर…

2 hours ago

Search News

Subscribe A2znews For News, Jobs & lifestyle

Recent Posts