गूगल प्ले स्टोर पर इन चीनी ऐप का लाइट वर्जन है! बैन के बाद भी डाउनलोड हो रहे हैं

प्लेस्टर पर कुछ ऐप के लाईट वर्जन हैं

Google Play स्टोर से लाइट वर्जन को बचाया नहीं गया है। प्ले स्टोर पर सर्च करने पर Viva वीडियो, लाइक और बिगो लाइव के लाइट वर्जन दिखते हैं। और ये डाउनलोड भी हो रहे हैं।

नई दिल्ली। भारत सरकार के 59 चीनी ऐप्स (चीनी ऐप्स) को बैन करने के बाद Google ने भी इन सभी ऐप को अस्थायी रूप से ब्लॉक कर दिया है। Google ने गुरुवार को कहा, ‘उन ऐप्स को अस्थायी रूप से ब्लॉक कर दिया गया है जो इस सप्ताह सरकार द्वारा प्रतिबंध लगाए जाने के बाद भी भारत में प्ले स्टोर पर उपलब्ध थे। हालांकि अभी भी कुछ ऐसे ऐप हैं जिनका लाईट वर्जन गूगल प्ले स्टोर पर नजर आ रहा है साथ ही वह डाउनलोड भी हो रहे हैं।

नवभारत टाइम्स में छपी एक खबर के मुताबिक, जब प्ले स्टोर पर इन ऐप्स को सर्च किया गया तो पाया गया कि कुछ ऐप्स का लाइट वर्जन अभी भी डाउनलोड के लिए प्ले स्टोर पर मौजूद है। जानकारी के लिए बता दें कि सरकार ने इन ऐप्स पर बैन इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजीज एक्ट के सेक्शन 69 ए के तहत लगाया है।

ये ऐप अभी भी Google Play स्टोर पर हैं-

Google ने जिन ऐप को बचाया था, उनके बारे में कोई खुलासा नहीं किया गया है। हटाए गए ऐप के लाइट वर्जन को बचाया नहीं गया है। प्ले स्टोर पर सर्च करने पर Viva वीडियो, लाइक और बिगो लाइव के लाइट वर्जन दिखते हैं। और ये डाउनलोड भी हो रहे हैं।ये भी पढ़ें: कोरोना काल में भारत में Google पर सबसे ज्यादा खोज हुईं ये, जून में बदल गई ट्रेंड

लाइट वर्जन का साइज होता है छोटा-

किसी भी ऐप का लाइट वर्जन हमेशा छोटे बचत में होते है, जो फोन की मैमोरी में स्पेज भी कम लेता है और डेटा भी कम यूज होता है। हालांकि ये वर्जन का काम भी मुख्य ऐप जैसा ही होता है। सरकार ने गूगल और ऐपल को इन ऐप्स को हटाने के निर्देश तो दिए ही थे। साथ ही, इंटरनेट सेवा प्रोवाइडर्स व टेलिकॉम ऑपरेटर्स को भी इन्हें ब्लॉक करने के निर्देश दिए गए थे।

ये भी पढ़ें: Reliance Jio ने किया लॉन्च ‘JioMeet’ ऐप, एक साथ 100 लोगों से कर सकते हैं फ्री में कॉन्फिडेंस

नॉन-मोबाइल बेस्ड इंटरनेट डिवाइस में भी नहीं चल रही ऐप और

केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने बताया कि इंफोर्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट (आईटी एक्ट) की धारा -69 ए और इंफोर्मेशन टेक्नॉलॉजी (प्रोसीजर एंड सेफगार्ड्स के लिए बन्डिंग ऑफ एक्ट्स ऑफ इंफोर्मेन्स पब्लिक) रूलेस 2009 के संबंधित प्रावधान उसे विदेशी ऐप पर प्रतिबंध लगाने की शक्तियां प्रदान करता है। ।

प्रथम प्रकाशित: 3 जुलाई, 2020, शाम 4:58 बजे

admin

Recent Posts

उत्तराखंड: लिपुलेख के पास तिंकर तक सड़क बनाने में जुटी नेपाली सेना

उत्तराखंड बॉर्डर पर नेपाली सेना सड़क बनाने में जुटी है. नेपाली सेना (Nepali Army) के 53 जवान खलंगा पहुंच गए…

18 mins ago

Rajasthan Crisis : कांग्रेस-बीजेपी दोनों के लिए परेशानी बन सकता है राजे गुट

राजस्थान की पूर्व CM वसुंधरा राजे ने दिल्ली में जेपी नड्डा से मुलाकात की. (फाइल फोटो) बड़ा दबाव राजे गुट…

1 hour ago

नोएडा: कोविद -19 टैली 5,868 तक पहुंच गई, सक्रिय मामलों में वृद्धि 937 | नोएडा समाचार – टाइम्स ऑफ इंडिया

NOIDA: उत्तर प्रदेश का गौतम बौद्ध नगर आधिकारिक आंकड़ों से पता चलता है कि शनिवार को 65 ताजा कोविद -19…

2 hours ago

राजस्थान में राजनीतिक संकट के बीच सक्रिय हुईं वसुंधरा, नड्डा के बाद राजनाथ सिंह से मिलीं

राजस्थान की पूर्व CM वसुंधरा राजे ने राजनाथ सिंह से मुलाकात की है (फाइल फोटो) हालांकि इन मुलाकातों के दौरान…

2 hours ago

हिमाचल: मंडी में एक साथ 14 कोरोना मरीज मिलने से हड़कंप, 6 बाहरी मजदूर

मंडी में कोरोना के 14 नये केस सामने आए (सांकेतिक तस्वीर) डीसी ऋग्वेद ठाकुर ने 14 नए मामलों की पुष्टि…

2 hours ago

अयोध्या में भूमि पूजन स्थल की रायसेन के फूलों ने बढ़ाई थी शोभा, भगवान राम से जिले का है खास कनेक्शन

5 अगस्त को पीएम मोदी के हाथों अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर भूमि पूजन संपन्न हुआ पॉलीफार्म के…

3 hours ago

Search News

Subscribe A2znews For News, Jobs & lifestyle

Recent Posts