Categories: झारखंड

झारखंड के इस गांव ने मच्छरों को कर दिया ऑल आउट… बगैर मोबाइल के विकसित कर लिया अपना संचार माध्यम.. जानिए कैसे

झारखंड के इस गांव ने मच्छरों को कर दिया ऑल आउट… बगैर मोबाइल के विकसित कर लिया अपना संचार माध्यम.. जानिए कैसे

रवि सिन्हा, रांची:

झारखंड का नाम सुनते ही जंगलों की अच्छी तस्वीरें मन में उभरने लगती हैं। लेकिन साथ में दिखते हैं मच्छर जो लोगों का जीना मुश्किल किए रहते हैं। वन क्षेत्र होने के चलते मच्छरों को यहां पनपने में आसानी होती है। लेकिन राजधानी रांची से सटे एक गांव के लोगों ने अपनी मेहनत से गांव को मॉस्क्यूटो फ्री यानि मच्छर रहित कर लिया है।

रांची के आरा-केरम गांव से भागे मच्छर

झारखंड की राजधानी रांची से 30 किलोमीटर की दूरी पर है एक गांव आरा-केरम। हर साल यहां लोग मच्छरों के प्रकोप और उनसे फैलाई जाने वाली बीमारियों से आजिज आ चुके थे। आखिर में गांव के लोगों ने इससे निजात पाने के लिए कोशिश शुरू की। इसके लिए सबसे पहले गांव के हर घर में साफ-सफाई पर जोर दिया गया। इसके बाद गांव में जितने भी पानी के स्रोत थे, उन सबको ढक दिया गया। गांव की हरेक नाली-नाले को भी ग्रामीणों ने ढक दिया। इसके बाद गांव में जहां-जहां जलजमाव होता था, उन सभी जगहों को मिट्टी और रेत से पाट दिया गया। अंत में गांववालों की कोशिश रंग लाई और अब इस गांव से मच्छर करीब-करीब गायब हो चुके हैं।

आरा-केरम गांव का अपना कम्यूनिकेशन सिस्टम

अगर हम कहें कि बगैर टेलीफोन और मोबाइल के भी दूर बैठे लोगों तक आप अपना संदेश पहुंचा सकते हैं, तो शायद आपको यकीन नहीं होगा। लेकिन आरा-केरम गांव में ये एक शानदार हकीकत है। गांव के लोगों ने सिर्फ लाउडस्पीकर… जी हां, लाउडस्पीकर से खुद का संचार माध्यम बना लिया है। ग्रामीणों ने लाउडस्पीकर के अनूठे प्रयोग से गांव के विकास को गति दे दी है। लाउडस्पीकर के जरिए कोई भी सूचना ग्रामीणों तक बिजली की तेजी से पहुँच जाती है।

आरा केरम के चौराहे पर पेड़ से बंधा लाउडस्पीकर हर सूचना पहुंचाने के काम आता है। मौका चाहे कोई भी हो, शुरूआत में आप आरा-केरम गांव के चौराहे पर लाउडस्पीकर देखेंगे तो आपको लगेगा कि यहां शादी-ब्याह या कोई आयोजन है। लेकिन ये लाउडस्पीकर पूरे गांव में एक बार में फौरन कोई भी खबर पहुंचाने के लिए है।

ग्रामसभा हो, श्रमदान करना हो या फिर कोई शोक संदेश.. ग्रामीणों तक इसकी सूचना पलक झपकते पहुंच जाती है और ग्रामीण फौरन इकट्ठे हो जाते हैं। लाउडस्पीकर के बेहतरीन इस्तेमाल से एक ओर जहां समय की बचत हो रही है। वहीं बच्चों की शिक्षा, घरेलू कामकाज या फिर सामाजिक सरोकार.. सभी में तेजी और नयापनआ गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी की आरा-केरम गांव की तारीफ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी रांची से 30 किलोमीटर दूर बसे आरा-केरम गांव की तारीफ अपने मन की बात में कर चुके हैं। पीएम मोदी ने अपने मन की बात में आरा-केरम गांव में जल संचयन, जैविक खेती और नशामुक्ति को लेकर ग्रामीणों के सामूहिक प्रयास की दिल खोलकर तारीफ की है।

Source link

admin

Recent Posts

WhatsApp Web के नए फीचर से बदल जाएगा चैट का लुक, ऐसे आसानी से करें ON

WhatsApp Web पर डार्क मोड एक्टिवेट करना आसान है. अगर आप भी अपने वॉट्सऐप वेब पर नई डार्क थीम इस्तेमाल…

14 mins ago

Jaipur: सस्पेंस से उठा पर्दा, पूर्व सीएस डीबी गुप्ता होंगे सीएम के सलाहकार, आनंदी बनीं अलवर कलक्टर

2 जुलाई को जारी तबादला सूची में डीबी गुप्ता को मुख्य सचिव के पद से हटा दिया गया था. राज्य…

33 mins ago

Benefits Of Flax Seeds: औषधीय गुणों से भरपूर हैं अलसी के बीज, मोटापा घटाने की हैं रामबाण दवा

अलसी के बीज से होने वाले फायदों को सुनकर आप हैरान रह जाएंगे. अलसी के बीज (Flax Seeds) कई तरह…

1 hour ago

कॉरपोरेट चटकारे: रिलायंस रिटेल के साथ बियानी के सौदे पर कोविद बादल; इस मित्तल के लिए पैसे की बर्बादी होती है, और कोलकाता उत्तराधिकारियों ने एक तंत्र-मंत्र फेंका

सूट और बातें | ET, कॉरपोरेट गलियारों और पॉलिसी पार्लरों में निराधार फुसफुसाहट और बड़बड़ाहट के साप्ताहिक राउंडअप: जीवन समंदर…

1 hour ago

राशिफल आज, 06 जुलाई 2020: मेष, वृष, मिथुन, कर्क और अन्य राशियों के लिए ज्योतिषीय भविष्यफल देखें – Times of India

अपना पढ़ो राशिफल यह जानने के लिए कि आज सितारों के लिए आपके पास क्या है:मेष राशिआज आप काम में…

2 hours ago

बाड़े में सो रहे पशु व्यापारी की बेरहमी से हत्या, बिस्तर पर खून से लथपथ मिला शव

लुधियाना जिले के गांव कलाल माजरा में रविवार देर रात किसी ने गांव पशुओं के एक व्यापारी की बेरहमी के…

2 hours ago

Search News

Subscribe A2znews For News, Jobs & lifestyle

Recent Posts