धारावी से शानदार खबर, 70 पर्सेंट कोरोना मरीज हुए ठीक

कोरोना दवा पर घिरे रामदेव बोले- मेरे साथ आतंकवादियों जैसा बर्ताव
हाइलाइट्स
  • मुंबई के धारावी में कोरोना के कुल मरीजों की संख्या हुई 2282
  • 2282 मरीजों में से 1618 मरीज ठीक होकर अपने घर को गए
  • धारावी में मरीजों के ठीक होने का प्रतिशत 70 से भी ज्यादा है
  • पिछले कई दिनों से बीएमसी ने धारावी में मौत के आंकड़े नहीं बताए हैं

मुंबई

लगभग तीन महीने पहले मुंबई के धारावी में कोरोना का पहला मामला सामने आया था। झुग्गी बस्ती वाले इस इलाके में कोरोना संक्रमण फैलने की घटना ने राज्य सरकार के साथ-साथ पूरे देश के होश उड़ा दिए थे। अब इसी धारावी से अच्छी खबर आई है। देश के सबसे बड़े झुग्गी-बस्ती वाले इलाके धारावी में कोरोना के 70 पर्सेंट से ज्यादा मरीज ठीक हो गए हैं। अभी तक कुल 2282 मरीजों में से 1618 ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं।

बुधवार को धारावी इलाके में कोरोना वायरस के 14 नए मरीज सामने आए। इस प्रकार अभी तक कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 2,282 हो गई। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने धारावी में कोरोना से हुई मौतों की संख्या का खुलासा नहीं किया। बीएमसी ने पिछले कुछ दिनों में धारावी में हुई मौतों के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है। रविवार तक क्षेत्र में महामारी के कारण मरने वालों की संख्या 82 थी।

सिर्फ 535 ऐक्टिव केस बचे

बीएमसी के एक अधिकारी ने बताया कि क्षेत्र में कोरोना वायरस के 535 मरीजों का इलाज चल रहा है। वहीं, ठीक हो जाने के बाद 1,618 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है। करीब 2.5 वर्ग किलोमीटर में फैले धारावी की आबादी करीब 6.5 लाख है। निकटवर्ती दादर और माहिम क्षेत्रों में बुधवार को कोरोना वायरस के क्रमश: 21 और 19 नए मामले सामने आए।

दरअसल, धारावी में इस कामयाबी के पीछे काफी बड़े प्लान का हाथ है। बीएमसी, एनजीओ, राज्य सरकार और अन्य कई संस्थाओं ने मिलकर लगभग चार लाख घरों में सर्वे किया। हल्के-फुल्के लक्षण वाले लोगों को भी शुरुआती स्टेज में ही क्वारंटीन कर दिया गया। क्वारंटीन सेंटर में फ्री खानपान और मेडिकल फसिलिटी के चलते लोगों ने भी हिचक नहीं दिखाई। यही कारण रहा कि क्वारंटीन सेंटरों के मैनेजमेंट में बीएमसी को काफी मदद मिली।

धारावी में एक चौथाई रह गई कोरोना की रफ्तार

बीएमसी ने यह सुनिश्चित किया कि क्वारंटीन सेंटर में ही कोरोना टेस्ट की व्यवस्था की गई थी। लगातार स्क्रीनिंग, आइसोलेशन, कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग, टेस्टिंग और बेहतर ट्रीटमेंट के कारण कोरोना धारावी में पूरी तरह फैल नहीं पाया। शुरुआत में आशंका जताई जा रही थी कि धारावी में ही कोरोना के मामले लाखों की संख्या को पार कर सकते हैं। तमाम प्रयासों के चलते अब धारावी में कोरोना की रफ्तार कम हो गई है। प्रतिदिन आने वाले मरीजों की संख्या भी जल्द ही दहाई के आंकड़े से कम हो सकती है।

सांकेतिक तस्वीर

Source link

admin

Recent Posts

Oppo A52 का 8GB रैम वेरियंट हुआ लॉन्च, बेहतरीन डिस्प्ले के साथ 5000mAh की पावरफुल बैटरी

Oppo A52 स्मार्टफोन 8GB रैम में हुआ लॉन्च Oppo ने अपने Oppo A52 स्मार्टफोन को 8GB रैम ऑप्शन में लॉन्च…

46 mins ago

Rajasthan crisis: बसपा से कांग्रेस में आये 6 विधायकों को शिफ्ट करने की सुगबुगाहट, गहलोत आज लेगें विधायक दल की बैठक

राजस्थान में चल रहे सियासी संग्राम में अभी अशोक गहलोत और सचिन पायलट खेमों की चुप्पी को तूफान से पहले…

58 mins ago

MP by Election : बीजेपी के 15 साल का जवाब देगा 15 महीने का कमलनाथ संदेश

कांग्रेस का 50 बिंदुओं का ड्राफ्ट विशेषज्ञ ने तैयार किया है. एमपी कांग्रेस (congress) की कोशिश है कि जिन सीटों…

1 hour ago

मनोज सिन्हा ने जम्मू-कश्मीर के नये उपराज्यपाल के तौर पर शपथ ली

श्रीनगर, सात अगस्त (भाषा) पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा ने शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के नये उपराज्यपाल के तौर पर शपथ…

1 hour ago

जलगांव: भाजपा नेता एकनाथ खडसे को 1 लाख 4 हजार रुपये का बिजली का बिल

पूर्व मंत्री एकनाथराव खडसे (former minister) को बिजली विभाग द्वारा मिला 1 लाख 4 हजार का बिजली का बिल। खडसे…

2 hours ago

Rajasthan: गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, अब वसुंधरा राजे को नहीं खाली करना होगा सरकारी बंगला

पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट राजे से बंगला खाली नहीं करवाने पर राजे और गहलोत के बीच मिलीभगत आरोप लगा…

4 hours ago

Search News

Subscribe A2znews For News, Jobs & lifestyle

Recent Posts