पुणे- कंटेन्मेंट जोन में नए किरायेदार और मजदूरों की एंट्री बंद।

पुणे प्रशासन का फरमान अब प्रतिबंधित इलाकों में नए किराएदारों और प्रवासी मजदूरों को नहीं मिलेगा मकान। कोरोनॉ के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रशासन ने लिया फैसला।

Edited By Avinash Pandey | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

पुणे- कंटेन्मेंट जोन में नए किरायेदार और मजदूरों की एंट्री बंद।

अविनाश पाण्डेय, पुणे

पुणे में कोरोना के बढ़ते हुए आंकड़ों ने प्रशासन की नींद उड़ा दी है। ऐसे में प्रशासन ने एक नया फैसला लिया है जिसके तहत अब पुणे के कंटेन्मेंट जोन में किसी भी नए किराएदार और मजदूर के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इतना ही नहीं वरिष्ठ नागरिक, गर्भवती महिला और छोटे बच्चे, इन सभी लोगों को अत्यावश्यक कार्य के अलावा घर से बाहर जाने की इजाजत नहीं होगी। सुबह 10 बजे से लेकर के दोपहर 2 बजे तक दूध, सब्जी जैसी जरूरी चीजों की खरीदारी की जा सकती है। किसी भी सोसाइटी में अगर कोई कोरोना संक्रमित पाया जाता है तो वहां 28 दिन के लिए माइक्रो कंटेन्मेंट जोन बनाया जाएगा। प्रशासन के इस नए आदेश को सभी निवासियों को सख्ती से पालन करना अनिवार्य है।

पुणे में 61 प्रतिशत मरीज ठीक हुए

पुणे में मरीजों का आंकड़ा भले ही रोजाना बढ़ता जा रहा हो लेकिन यहां ठीक होने वाले मरीजों की संख्या काफी हद ठीक है। पुणे मे अब तक दस हजार से ज्यादा मरीज ठीक होकर घर जा चुके है, यानी 61 प्रतिशत मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं। शहर में कोरोना मरीजों की तादाद 23 हजार के पार पहुंच चुकी है,जबकि 350 से ज्यादा गंभीर मरीजों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। बीते दस दिनों में पांच हजार से ज्यादा मरीज कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं जबकि 132 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। इस दौरान प्रशासन ने 28 हजार से भी ज्यादा नागरिकों का कोरोना टेस्ट किया है और तकरीबन तीन हजार लोगों को डिस्चार्ज दिया गया।

ससून कोविड अस्पताल में स्वास्थ्य कर्मियों की भर्ती होगी

मुंबई और ठाणे शहर के बाद कोरोना से बुरी तरह से प्रभावित शहर पुणे है जहां हर दिन नए मरीज सामने आ रहे है। मरीजों की जांच और अस्पताल में अच्छी देखरेख के लिए अस्पताल प्रशासन ने ससून कोविड अस्पताल में स्वास्थ्य कर्मियों की भर्ती का फैसला किया है। इसमें नर्स,विभिन्न तकनीशियन पद और चतुर्थ श्रेणी के पदों का समावेश है। अस्पताल प्रशासन ने बताया कि यह सभी पद 6 महीने के लिए भरे जाएंगे। नई भर्तियों के बाद शहर के मरीजों को और भी बेहतर स्वास्थ्य सेवा मिलने की उम्मीद है।

कोरोना: मुंबई में मरीज 77 हजार पारमुंबई पुलिस ने शहर में बढ़ते कोविड-19 के मामलों पर लगाम लगाने के लिए बुधवार से धारा 144 शहर में लागू कर दी है। इस आदेश में सिर्फ धार्मिक स्थलों को कुछ शर्तों के साथ छूट दी गई है।

Web Title pune new law restricts entry of new tenants and migrant worker in hotspot areas.(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

Source link

admin

Recent Posts

बाबरी विध्वंस केस: भगोड़ा घोषित ओपी पांडे CBI कोर्ट में हाजिर, राम मंदिर भूमि पूजन के लिए आया था अयोध्या

अयोध्या के बाबरी विध्वंस केस में फरार आरेापी ओपी पांडे कोर्ट में हाजिर हो गया है. सीबीआई कोर्ट (CBI Court)…

1 hour ago

बीएसई 122 अंक और निफ्टी 52 पॉइंट ऊपर खुला, ल्यूपिन के शेयर में 8% से ज्यादा की बढ़त

शुक्रवार को कारोबार के आखिरी दिन पैटई 122.45 अंक और निफ्टी 52.85 पॉइंट की बढ़त के साथ खुला। इससे पहले…

1 hour ago

हरियाणा: Cyber क्राइम करने वालों पर कसेगा शिकंजा, पुलिस हर जिले में बनाएगी Cyber रिस्पांस सेंटर

हरियाणा पुलिस साइबर क्राइम करने वालों से अब ऐसे निपटेगी. हरियाणा (Haryana) में अब साइबर क्राइम करने वालों की खैर…

2 hours ago

हिमाचल पुलिस की उपलब्धि :SP साइबर क्राइम संदीप धवल को केंद्रीय गृहमंत्री पदक सम्मान

हिमाचल के एसपी क्राइम संदीप धवल. Police Medal For SP Crime: घोटाले के मुख्य आरोपी कंपनी के मालिक राकेश कुमार…

2 hours ago

इन योगासनों से महिलाएं खुद को रख सकती हैं सेहतमंद

घर की सबसे बड़ी जिम्मेदारी महिलाओं पर होती है क्योंकि परिवार के सभी सदस्यों का ख्याल महिलाओं को ही रखना…

2 hours ago

Search News

Subscribe A2znews For News, Jobs & lifestyle

Recent Posts