सायबर ठगों के निशाने पर MP के रिटायर्ड अधिकारी- कर्मचारी, झारखंड से चल रहा है रैकेट

लॉकडाउन-अनलॉक में सक्रिय हुए सायबर अपराधी(सांकेतिक तस्वीर)

सायबर सेल, क्राइम ब्रांच और स्थानीय पुलिस (police) के पास ऐसे कई मामले सामने आ रहे हैं. शिकायतें बढ़ने पर संचालनालय पेंशन, भविष्य निधि एवं बीमा ने भी अलर्ट (alert) जारी किया है.

भोपाल.सायबर ठग (syber thug) अब पेंशनर्स को ठग रहे हैं. भोपाल सायबर क्राइम पुलिस (crime police) ने ऐसे ही तीन ठगों को भोपाल में गिरफ्तार किया है. ये एक अंतर्राज्यीय गिरोह के सदस्य हैं. इनका सरगना झारखंड में बैठकर वहां से गिरोह चला रहा है. पेंशनर्स की लगातार शिकायत मिलने पर पुलिस सक्रिय हुई और फिर इन ठगों का पता चला.

सायबर ठगों ने आम जनता के बाद अब उन रिटायर्ड अधिकारी कर्मचारियों को निशाना बनाना शुरू कर दिया है जो अपना अधिकांश समय घर में बिताते हैं. ठग गिरोह ऐसे अधिकारी कर्मचारियों को फोन कर पेंशनर अकाउंट और एम्पलाई डाटा अपडेट करने के नाम पर उनकी पर्सनल जानकारी हासिल कर लेते हैं. सायबर सेल क्राइम ब्रांच और स्थानीय पुलिस के पास ऐसे कई मामले सामने आ रहे हैं. शिकायतें बढ़ने पर संचालनालय पेंशन, भविष्य निधि एवं बीमा ने भी अलर्ट जारी किया है.

डाटा अपडेट करने का झांसा
संचालनालय पेंशन, भविष्य निधि एवं बीमा के अनुसार पेंशनर के डाटा अपडेट करने का काम संबंधित बैंक का रहता है. लेकिन रिटायर्ड अधिकारी कर्मचारियों के पास अज्ञात व्यक्ति फोन लगाकर उनके अकाउंट और उनकी पर्सनल जानकारी हासिल कर रहे हैं. संचालनालय ने कहा है कि यदि डाटा अपडेट के नाम पर कोई अज्ञात व्यक्ति जानकारी मांग रहा है तो उसकी शिकायत पुलिस थाने में करें. संचालनालय में लगातार रिटायर्ड अधिकारी कर्मचारी फोन करके इन अज्ञात लोगों की शिकायत कर रहे हैं. वो बताते हैं कि उनके पास डाटा अपडेट करने के लिए लगातार फोन आ रहे हैं. यह साइबर डाटा अपडेट के नाम पर अधिकारी कर्मचारियों की पर्सनल जानकारी हासिल कर लेता है और इसके बाद ऑनलाइन अपने अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर लेता है.झारखंड में बैठकर भोपाल में ठगा

भोपाल पुलिस को साइबर ठगों के एक गैंग के बारे में पता चला है. यह गैंग झारखंड में बैठकर भोपाल के साथ प्रदेश भर के लोगों को ठग रहा है. इस वारदात में भोपाल के तीन युवक शामिल हैं. पिपलानी पुलिस ने छतरपुर से स्थानीय पुलिस की मदद से तीनों ठगों को गिरफ्तार कर लिया है. उनसे लगातार पूछताछ की जा रही है. पुलिस ने बताया कि छतरपुर निवासी रिटायर्ड एसआई अशोक कुमार सक्सेना के साथ जालसाज ने धोखाधड़ी की थी. उन्होंने इसकी शिकायत दर्ज कराई थी. तीनों आरोपी भोपाल में बैठकर झारखंड में बैठे सरगना के लिए काम कर रहे थे.

बैंक अधिकारी बनकर ठगते हैं
आरोपी बैंक अधिकारी बनकर खाताधारकों से एटीएम कार्ड की डिटेल और ओटीपी नंबर हासिल कर लेते थे. उसके बाद अकाउंट से पैसे निकालकर रफूचक्कर हो जाते थे. पिपलानी पुलिस भी आरोपियों से लगातार पूछताछ कर शहर में हुई साइबर ठगी की वारदातों के बारे में पता लगा रही है. रिटायर्ड एसआई अशोक कुमार सक्सेना के अकाउंट से भी आरोपियों ने तीन लाख रुपए निकाल लिए थे.



Source link

admin

Recent Posts

आर्टिकल 370 हटाए जाने के एक साल पूरे होने पर कश्मीर में 2 दिन का कर्फ्यू लागू

Edited By Shefali Srivastava | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 04 Aug 2020, 11:07:00 AM IST फाइल फोटोश्रीनगर कश्मीर में आर्टिकल 370…

17 mins ago

झारखंड: सरकारी राशन को लेकर विवाद, बेटे ने ही कर दी पिता की हत्या

हाइलाइट्सझारखंड के पाकुड़ में बेटा ही बना बुजुर्ग पिता की जान का दुश्मनसरकारी राशन को लेकर विवाद में कर दी…

1 hour ago

Rajasthan : 20 अगस्त से महज 8 रुपए में मिलेगा भरपेट गर्मागर्म पौष्टिक खाना

अशोक गहलोत सरकार ने इस योजना का नाम इंदिरा रसोई रखा है, (फाइल फोटो) सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot)…

6 hours ago

अरविंद केजरीवाल, हरदीप सिंह पुरी ने दिल्ली में विकास को लेकर बैठक की दिल्ली समाचार – टाइम्स ऑफ इंडिया

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ एक बैठक आयोजित की केंद्रीय आवास और शहरी मामले मंत्री हरदीप पुरी ने…

7 hours ago

सियासी मुद्दा बन चुकी पराली के प्रबंधन की तैयारियां शुरू, हरियाणा ने पास की 1,305 करोड़ रुपये की योजना

चंडीगढ़. हरियाणा सरकार ने राज्य में पराली प्रबंधन के लिए 1,304.95 करोड़ रुपये की एक बड़ी योजना को स्वीकृति प्रदान…

7 hours ago

UP में कोरोना की रफ्तार ने बढ़ाई चिंता, एक दिन में 4473 केस और 50 लोगों की मौत

कोरोना संक्रमण के मामलों में काफी तेजी से इजाफा हो रहा है COVID-19 Update: उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Coronavirus)…

8 hours ago

Search News

Subscribe A2znews For News, Jobs & lifestyle

Recent Posts