20 जांबाजों की शहादत से गुस्से में देश, चाइनीज मोबाइल कंपनी ओप्पो के सामने प्रदर्शन, 30 पर केस


एक तरफ देश में कोरोना (Coronavirus Updates India) की दहशत है, दूसरी ओर 20 भारतीय जांबाजों की शहादत का आक्रोश। गलवान घाटी में चीन की कायराना हरकत के बाद पूरे देश में आक्रोश का माहौल है। लोगों की ओर से चाइनीज प्रॉडक्ट का बहिष्कार करने की मांग की जा रही है।

भाषा | Updated:

सांकेतिक तस्वीर
हाइलाइट्स
  • नोएडा में चाइनीज मोबाइल कंपनी ओप्पो के बाहर लोगों ने किया जमकर प्रदर्शन
  • हिंदू रक्षा दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष समेत 30 लोगों के खिलाफ दर्ज किया गया मुकदमा
  • बिना अनुमति एकत्र हो गए थे हिंदू रक्षा दल के पदाधिकारी, लिया गया सख्त ऐक्शन
  • गलवान घाटी में भारतीय जवानों की शहादत के बाद लगातार चीन का हो रहा है विरोध

नोएडा

चीन (Galwan Ghati Clash) की कायराना हरकत के बाद पूरे देश में आक्रोश की लहर है। 20 भारतीय सैनिकों की शहादत से आक्रोशित हिंदू रक्षा दल के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने शनिवार को ओप्पो मोबाइल (Oppo Mobile Company) फोन बनाने वाली चीनी कंपनी (Chinese Company) के बाहर प्रदर्शन किया। इसके बाद पुलिस ने हिंदू रक्षा दल (Hindu Raksha Dal) के राष्ट्रीय अध्यक्ष समेत 30 लोगों के खिलाफ लॉकडाउन और धारा 144 के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया गया है।

पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह के मीडिया प्रभारी पंकज कुमार ने बताया कि शनिवार को ओप्पो कंपनी के गेट पर हिंदू रक्षा दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष भूपेंद्र तोमर उर्फ पिंकी चौधरी और जिला संयोजक गौतम बुध नगर प्रवीण कुमार 30-35 व्यक्तियों के साथ बिना किसी अनुमति के एकत्र हो गए। उन्होंने जमकर हंगामा किया और नारेबाजी की। कुमार ने बताया कि जनपद में कोविड- 19 के चलते धारा 144 और लॉकडाउन जारी है।

पढ़ें: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कल PM का संबोधन

18 महीने से लद्दाख में थी तैनाती

  • तेलंगाना के रहने वाले कर्नल संतोष बाबू 16 बिहार रेजिमेंट के कमांडिंग अफसर थे। कर्नल संतोष 18 महीने से लद्दाख में भारतीय सीमा की सुरक्षा में तैनात थे। कर्नल की पत्नी संतोषी 8 साल की बेटी और 3 साल के बेटे के साथ दिल्ली में रहती हैं।

  • मनदीप सिंह वर्ष 1997 में भारतीय सेना में भर्ती हुए थे। उनका जन्म 28 मार्च 1981 को हुआ था। वह पंजाब के पटियाला जिले के रहने वाले थे।

  • तमिलनाडु के रामनाथपुरम जिले के रहने वाले शहीद जवान के पलानी 81 फील्ड रेजिमेंट के सदस्य थे। के पलानी के परिवार को चिट्ठी लिखते हुए राहुल गांधी ने उन्हें राष्ट्र नायक बताया है।

  • मेरठ में रहने वाले 35 साल के जांबाज हवलदार बिपुल रॉय गलवान घाटी में हुए संघर्ष में शहीद हो गए। 4 दिन पहले ही उन्होंने पत्नी और बेटी से आखिरी बार बात की थी और जल्दी छुट्टी लेकर घर आने का वादा किया था। बिपुल रॉय मूल रूप से वेस्ट बंगाल के अलीपुरद्वार जिले के रहने वाले थे। उन्होंने 2003 में भारतीय फौज जॉइन की थी। फिलहाल, वह 81 माउंट बिग्रेड सिग्नल कंपनी में लद्दाख की गलवान वैली में पोस्टेड थे। बिपुल राय की पत्नी और एक बच्ची पांच साल के साथ मेरठ के कंकरखेड़ा इलाके के कुंदन कुंज में रहते थे। लद्दाख से पहले वह मेरठ में तैनात थे। एडीएम सिटी मेरठ के मुताबिक फिलहाल घर पर पत्नी और बच्ची रहते हैं। बिपुल रॉय का पार्थिव शरीर उनके घर पर वेस्ट बंगाल ही ले जाया जाएगा।(इनपुट: शादाब रिज़वी)

  • बिहार के भोजपुर के लाल कुंदन कुमार ओझा चीन के कायरतापूर्ण हमले में शहीद हो गए हैं। शहीद कुंदन कुमार ओझा मूल रूप से जिले के बिहिया थाना क्षेत्र के पहरपुर गांव के रहने वाले हैं। जबकि उनके किसान पिता रविशंकर ओझा करीब तीस साल पहले ही झारखंड में साहेबगंज जिले के हाजीपुर पश्चिम पंचायत के डिहारी गांव में पूरे परिवार के साथ रहने लगे थे। सिपाही कुंदन कुमार ओझा वर्ष 2012 में भारतीय सेना में भर्ती हुए थे। उनका जन्म 1993 में हुआ था।

  • सिपाही अमन कुमार ने वर्ष 2014 में भारतीय सेना जॉइन की थी। उनका जन्म वर्ष 1993 में हुआ था। अमन बिहार के समस्तीपुर जिले के रहने वाले थे।

  • दीपक सिंह वर्ष 2012 में भारतीय सेना में भर्ती हुए थे। दीपक मध्य प्रदेश के रीवा के रहने वाले थे। उनकी मां का नाम सरोज सिंह है। दीपक का जन्म 15 जुलाई 1989 को हुआ था।

  • सिपाही चंदन कुमार वर्ष 2017 में भारतीय सेना में भर्ती हुए थे। वह बिहार के भोजपुर जिले के रहने वाले थे। उनकी मां का नाम धर्मा देवी है। देश के लिए बलिदान देने वाले चंदन कुमार की शादी पिछले मई महीने में होने वाली थी। लॉकडाउन की वजह से उनकी शादी को टाल दिया गया था। शहीद चंदन कुमार चार भाई और चार बहनों के बीच सबसे छोटे थे। चंदन के तीन बड़े भाई भी आर्मी में है, जो फिलहाल देश की रक्षा करने में लगे हुए हैं।

  • सिपाही राजेश ओरंग का जन्म 05 अप्रैल 1994 को हुआ था। वह 2015 में भारतीय सेना में भर्ती हुए थे। राजेश ओरंग मूल रूप से पश्चिम बंगाल के सदरसुरी के रहने वाले थे।

  • सिपाही गणेश राम का जन्म 28 अप्रैल 1993 को हुआ था। वह मूल रूप से छत्तीसगढ़ के कांकेर के रहने वाले थे। गणेश वर्ष 2011 में भारतीय सेना में भर्ती हुए थे और उन्हें एक महीने पहले ही भारत-चीन सीमा पर तैनाती मिली थी। शहीद गणेश राम की मां का नाम जागेश्वरी बाई है।

  • सिपाही गुरतेज वर्ष 2018 में भारतीय सेना में शामिल हुए। वह मूल रूप से पंजाब के मानसा के रहने वाले थे। उनका जन्म 15 नवंबर 1997 को हुआ था। उनकी मां का नाम प्रकाश कौर है।

  • सिपाही अंकुश वर्ष 2018 में भारतीय सेना का हिस्सा बने। उनका जन्म वर्ष 1998 में हुआ था। अंकुश मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर के रहने वाले थे।

  • सिपाही गुरुविंदर 24 मार्च 2018 को देश सेवा के संकल्प के साथ भारतीय सेना का हिस्सा बने थे। वह मूल रूप से पंजाब के संगरूर जिले के रहने वाले थे। गुरुविंदर का जन्म 2 जून 1998 को हुआ था।

  • 1979 को जन्मे सतनाम सिंह ने वर्ष 1995 में भारतीय सेना का हिस्सा बने। वह मूल रूप से पंजाब के गुरदासपुर के रहने वाले थे। उनकी पत्नी का नाम जसविंदर कौर है।

  • सिपाही गणेश हंसदा 16 सितंबर 2018 को भारतीय सेना का हिस्सा बने थे। वह मूलरूप से झारखंड के पूर्वी सिंहभूम के रहने वाले थे। उनका जन्म 12 अक्टूर 1999 को हुआ था।

  • बिहार के मूल निवासी सिपाही जय किशोर सिंह का जन्म 11 मई 1993 को हुआ था। वह वर्ष 2018 में भारतीय सेना में भर्ती हुए थे। उनकी मां का नाम मंजू देवी है।

  • बिहार के सहरसा के मूल निवासी कुंदन कुमार भी गलवान घाटी में हुए संघर्ष में शहीद हो गए। वह 21 मार्च 2012 को भारतीय सेना का हिस्सा बने थे।

चीनी प्रॉडक्ट्स को किया आग के हवाले

पंकज कुमार ने बताया कि बिना अनुमति इन लोगों की ओर से चीनी फोन निर्माता कंपनी के गेट पर किया गया प्रदर्शन महामारी अधिनियम की संबंधित धाराओं का उल्लंघन है। उन्होंने बताया कि उनके खिलाफ थाना ईकोर्ट -प्रथम में मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि जनता के बढ़ते आक्रोश की वजह से ग्रेटर नोएडा और नोएडा में स्थित चीन की कंपनियों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। वहां पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। जनपद गौतम बुध नगर की कई जगहों पर शनिवार को लोगों ने चीनी सामान का बहिष्कार करने का निर्णय लिया और चीनी सामानों को चौराहे पर इकट्ठा कर उसमें आग लगा दी।

Real Hero: 1967 की जंग, भारत के आगे गिड़गिड़ाकर चीन बोला…13 अगस्त 1967 (बंपर में तस्वीर पर कीबोर्ड की आवाज के साथ तारीख टाइप होंगी)नाथू ला में भारतीय सीमा से सटे इलाकों में चीनी सैनिक गड्ढे खोद रहे थे…भारतीय सैनिकों ने जब देखा कि कुछ गड्ढे सिक्किम के अंदर खोदे जा रहे हैं तो इसका विरोध किया गया….चीनी कमांडिंग अफसर को इसकी जानकारी दी गई लेकिन उसने अनसुना कर दिया…भारत चीन की घटिया मानसकिता भांप चुका था…अब अंतरराष्ट्रीय सीमा के अपने क्षेत्र में बाड़ लगवाने का फैसला किया गया…तारीख थी 20 अगस्त 1967 लेफ्टिनेंट राय सिंह को आदेश दिया गया कि सीमा पर तारों का बाड़ तैयार कराया जाए….लेफ्टिनेंट राय सिंह नाथु ला की आउट पोस्ट पर एक यूनिट की कमांडिंग कर रहे थे….राय सिंह ने बहुत जिम्मेदारी से अपने साथियों के साथ मिलकर यह काम पूरा किया…6 सितंबर 1967चीनी सेना का राजनीतिक कमिसार, दरअसल यह चीनी सेना में टुकड़ी के साथ एक राजनीतिक व्यक्ति भी होता है….भारतीय सैनिकों के काम में अड़ंगा डालने की कोशिश कर रहा था, तभी भारतीय सैनिकों ने उसे धक्का दे दिया, क्या था पूरा किस्सा यह एनबीटी ऑनलाइन को नाथु ला में तैनात रहे मेजर जनरल शेरू थपलियाल ने बताया….
Web Title protest in front of chinese mobile company oppo in noida due to martyred indian soldiers in galwan ghati(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें



Source link

admin

Recent Posts

Rajasthan: सुप्रीम कोर्ट के आदेश से बदले हालात, 3878 ग्राम पंचायतों के चुनाव आगे खिसकना लगभग तय

आयोग के वकील ने सुप्रीम कोर्ट में दलील दी कि प्रदेश में कोराना के केस बढ़ रहे हैं. ऐसे में…

6 mins ago

हरियाणा में मौसम: मानसून मेहरबान, कई जिलों में जोरदार बारिश, गर्मी से मिली राहत

हरियाणा में जमकर हुई बारिश पहली ही बारिश में हिसार (Hisar) शहर पानी पानी हो गया. बुधवार दोपहर को रोहतक…

9 mins ago

सेना के जवानों को फेसबुक-इंस्टाग्राम समेत 89 ऐप डिलीट करने का आदेश, नहीं किया तो होगी कार्रवाई

सेना के 13 लाख स्टाफ से फेसबुक-इंस्टाग्राम अकाउंट डीलीट करने को कहा गया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर) ये निर्णय सेना की…

1 hour ago

BS-IV वाहनों पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, 31 मार्च के बाद बीते वाहन का रजिस्ट्रेशन नहीं होगा

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट (भारत के सर्वोच्च न्यायालय) ने बड़ा फैसला सुनाया बीएस-IV (BSIV) वाहनों पर 27 मार्च 2020 के…

1 hour ago

होटल के मैनेजर ने 55 फीट ऊंची छत से कूदकर जान दी, एक दिन पहले ही आया था ड्यूटी पर

हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिले के गांव संदोह निवासी अजय कुमार के रूप में हुई मृतक की पहचानखाना पकाने वाले…

1 hour ago

राशिफल आज, 09 जुलाई 2020: मेष, वृष, मिथुन, कर्क और अन्य राशियों के लिए ज्योतिषीय भविष्यफल देखें – Times of India

अपना पढ़ो राशिफल यह जानने के लिए कि आज सितारों के लिए आपके पास क्या है:मेष राशिआज आप एक साथ…

2 hours ago

Search News

Subscribe A2znews For News, Jobs & lifestyle

Recent Posts