Categories: झारखंड

328 साल से चली आ रही परंपरा झारखंड में टूटी, इस साल दर्शन नहीं देंगे भगवान जगन्नाथ

328 साल से चली आ रही परंपरा झारखंड में टूटी, इस साल दर्शन नहीं देंगे भगवान जगन्नाथ
हाइलाइट्स
  • इस साल झारखंड वालों को दर्शन नहीं देंगे भगवान जगन्नाथ
  • 1691 से रांची के धुर्वा में निकाली जा रही थी रथयात्रा
  • इस साल कोरोना के चलते रद्द हुई 23 जून की रथयात्रा
  • सुप्रीम कोर्ट ने सिर्फ ओडिशा के पूरी में दी है सशर्त रथयात्रा की इजाजत

रवि सिन्हा, रांची:

झारखंड में सवा 3 सौ साल से चली आ रही परंपरा 2020 में टूट जाएगी। कोरोना के कहर के चलते यहां की रथयात्रा को स्थगित कर दिया गया है। रांची में जगन्नाथ मंदिर की रथयात्रा को लेकर जिला प्रशासन की तरफ से पहले दिया गया आदेश ही लागू रहेगा यानि 23 जून को निकाले जानेवाली रथयात्रा स्थगित रहेगी। कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम और जनमानस की सुरक्षा को लेकर ये आदेश जारी किया गया था, जो लागू रहेगा।

1691 के बाद पहली बार रथयात्रा नहीं

रांची के जगन्नाथपुर में साल 1691 से निकल रही रथ यात्रा इस बार नहीं निकलेगी। 1691 से धुर्वा के जगन्नाथपुर मंदिर परिसर से निकलने वाली इस रथ यात्रा के दौरान भव्य मेला भी लगता है, लेकिन कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से इस बार न यात्रा निकलेगी और न ही मेले का आयोजन होगा।

मंदिर के पुजारी द्वार के अंदर करेंगे पूजा

पूर्व में मुख्य सचिव, झारखंड सरकार के द्वारा जारी आदेश में कोरोना संक्रमण से बचाव के मद्देनजर धार्मिक आयोजनों पर रोक लगायी गयी है, जो जारी रहेगी, हालांकि जगन्नाथ मंदिर के पुजारी द्वार के अंदर भगवान जगन्नाथ की पूजा-अर्चना कर सकेंगे।

सुप्रीम कोर्ट ने पुरी में रथयात्रा की दी है अनुमति

आपको बताएं कि सुप्रीम कोर्ट ने ओडिशा में भगवान जगन्नाथ रथयात्रा की सशर्त अनुमति दी है जो कि सिर्फ पूरी के लिए ही है, देश के दूसरे हिस्सों के लिए नहीं। इससे पहले 18 जून के आदेश में सुप्रीम कोर्ट ने पूरी की रथयात्रा को कोरोना महामारी के मद्देनजर इजाजत नहीं दी थी और 23 जून से होने वाली रथयात्रा पर रोक लगा दी थी। रथयात्रा को लेकर अब मिली अनुमति में कोरोना के मद्देनजर सभी तरह की गाइडलाइंस के पालन का निर्देश दिया गया है।

Source link

admin

Recent Posts

उच्च न्यायालय ने इंटरनेट की सुस्त रफ्तार पर जम्मू कश्मीर के गृह सचिव को तलब किया

श्रीनगर, 14 जुलाई (भाषा) जम्मू कश्मीर में इंटरनेट की गति पर पाबंदी के कारण ऑनलाइन सुनवाई में हो रही ‘परेशानी’…

2 hours ago

कोरोना का कहर: सिरसा में अब रविवार को बंद रहेगा बाजार, व्यापार मंडल ने लिया फैसला

सिरसा का बाजार सिरसा (Sirsa) व्यापार मंडल के प्रधान हीरा लाल शर्मा ने बताया कि कल सभी व्यापार मंडल के…

2 hours ago

4 महीने बाद शुक्रवार को मिलने वाले डेटा बिल पर जेपीसी; समिति को संक्षिप्त करने के लिए सरकार के अधिकारी – द इकोनॉमिक टाइम्स

NEW DELHI: द संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) का अध्ययन व्यक्तिगत डेटा संरक्षण विधेयक, 2019 चार महीने के अंतराल के बाद…

2 hours ago

CBSE 12th Results: कांगड़ा की स्मृति हिमाचल में सेकेंड टॉपर, डॉक्टर बनना है सपना

अपने माता-पिता और स्कूल प्रबंधन के साथ स्मृति. शिवालिक स्कूल प्रबंधक एमएस राणा ने भी स्मृति को मिठाई खिलाई और…

2 hours ago

मुर्गीपालन कर घर पर ही लाखों की कमाई कर रहे हैं अल्मोड़ा के युवा, कोरोना काल में बने प्रवासियों के लिए प्रेरणा

ल्मोड़ा के कई गांवों में हज़ारों मुर्गियों की क्षमता के मुर्गीफार्म बन गए है जहां युवा मुर्गीपालन के रूप में…

3 hours ago

भोपालः बच्चियों से रेप के बाद उनकी शादी कराता था अखबार मालिक, बदले में मांगता था लड़कियां

बच्चियों से रेप का आरोपी प्यारे मियां फरार (सांकेतिक तस्वीर) नाबालिग बच्चियों से रेप (Rape) के आरोपी अखबार मालिक प्यारे…

3 hours ago

Search News

Subscribe A2znews For News, Jobs & lifestyle

Recent Posts