Railway आइसोलेशन में क्वारंटीन करने वाला पहला राज्य बना यूपी, ‘रातभर सोने नहीं देते मच्छर’


नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

कोरोना वायरस (Coronavirus Updates India) से जंग में क्वारंटीन के लिए देशभर में 960 कोविड केयर कोच (Covid Care Coach) तैयार किए गए थे। अब इनमें ऐहतियातन लोगों को क्वारंटीन (Quarantine) भी किया जाने लगा है। रेलवे के वाराणसी मंडल (Varanasi Division) के मऊ जंक्शन पर खड़े कोरोना केयर कोच में रविवार देरशाम 59 मरीजों को क्वारंटीन किया गया। इन मरीजों को पहले जिले के एक डिग्री कॉलेज में रखा गया था। हालांकि, वहां 26 जून से आयोजित परीक्षा को देखते हुए पहले से क्वारंटीन मरीजों को कोरोना केयर कोच में शिफ्ट कर दिया गया। मऊ के डीएम ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी के मुताबिक, इसमें सवार मरीजों को क्वारंटीन करने के साथ बराबर देखभाल की जा रही है।
(इनपुट- दिनेश मिश्रा)

‘रातभर नहीं सोने देते हैं मच्छर’

मऊ में खड़े इस कोच में नीलम (बदला हुआ नाम) रातभर नहीं सो सकीं। ऐसा नहीं है कि उन्हें कोरोना वायरस के डर की वजह से या फिर गर्मी की वजह से रातभर नींद नहीं आई बल्कि ढेर सारे मच्छरों ने उन्हें रातभर सोने नहीं दिया। नीलम के साथ-साथ उनके परिवार के पांच लोग हैं, जिनमें उनकी 11 महीने की बिटिया भी है। ये कोरोना के 59 संदिग्ध लोगों के समूह में हैं जिन्हें कोविड केयर कोच में क्वारंटीन किया गया है।

‘कहीं कोरोना नहीं…डेंगू न हो जाए’

सोमवार को एक महिला ने कहा, ‘मुझे पूरे वक्त इसी बात की फिक्र होती रहती है कि यदि कोरोना वायरस से नहीं तो मेरी बिटिया निश्चित रूप से मलेरिया या डेंगू से पीड़ित हो जाएगी। उसके चेहरे और पैरों में मच्छरों ने बुरी तरह से काटा है। वह हर वक्त रोती रहती है।’ वह कहती हैं, ‘यहां बच्चों के दूध की कोई व्यवस्था नहीं है। हमें हमारे घर से दूध भेजा जाता है, यहां से हमारे घर की दूरी लगभग 2 घंटे की है।’

यूपी में 23 जिलों में 372 रेलवे कोच

कोरोना को शिकस्त देने के लिए भारतीय रेलवे ने पांच राज्यों में कोरोना केयर कोच तैनात किए हैं। अकेले उत्तर प्रदेश में 23 जिलों में 372 कोरोना केयर कोच तैनात किए गए हैं। यूपी से ज्यादा दिल्ली में 9 स्थानों पर 503 कोच तैनात हैं।

इन लोगों को कोविड केयर कोच में किया गया शिफ्ट

मऊ डीएम ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि जिले में L-1 सहूलियत के 48 बेड पहले से हैं, इसमें 26 ऐक्टिव केस ठीक किए जा रहे हैं। बाबा भीमराव अंबेडकर डिग्री कालेज में जिन संदिग्ध केसों को क्वारंटीन किया जा रहा था, वहां संभावित परीक्षा को देखते हुए स्कूल को सेनेटाइज कराने के लिए रविवार की शाम को संदिग्ध 59 केस को कोविड केयर कोच में शिफ्ट किया गया है।



Source link

admin

Recent Posts

दो रिटायर्ड फौजियों ने दिया था लूट की वारदात को अंजाम, गिरोह के सरगना ने पहन रखी थी पुलिस की वर्दी

बीती 29 जून की रात 10 बजे गांव झंडेचक्क में घर में घुसकर दो तोले सोने की चेन, 58,500 रुपए…

33 mins ago

‘टाइगर जिंदा है’ के जवाब में दिग्विजय ने कहा- मैं और माधवराव सिंधिया मिलकर शेर का शिकार करते थे

दिग्विजय सिंह (PTI) भोपाल (Bhopal) में मंत्रियों के शपथ के बाद सिंधिया ने कमलनाथ (Kamalnath) और दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh)…

3 hours ago

Alert: कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच पैरवी कर रहे जयपुर के 14 हजार वकील, पढ़ें क्या हैं हालात

भयावह तस्वीर- सेशन कोर्ट की लिफ्ट में लगी वकीलों की भीड़. हाई कोर्ट को छोड़कर प्रदेश की अन्य अधीनस्थ अदालतों…

3 hours ago

दिल्ली अनलॉक 2.0 समाचार: आज का अपडेट | दिल्ली समाचार – टाइम्स ऑफ इंडिया

जैसा कि केंद्र और राज्य सरकारें कोविद -19 के प्रसार को रोकने के लिए दो महीने के लॉकडाउन के बाद…

3 hours ago

झारखंड हाईकोर्ट का फैसला- कोरोना काल में श्रावणी मेला नहीं, श्रद्धालु कर सकेंगे वर्चुअल दर्शन

हाइलाइट्सदेवघर में लगने वाले श्रावणी मेले को लेकर झारखंड हाईकोर्ट का बड़ा फैसला'कोरोना काल में श्रावणी मेला संभव नहीं, श्रद्धालुओं…

4 hours ago

हरियाणा: होटल में चल रहा था देह व्यापार का धंधा, आपत्तिजनक हालत में मिले युवक-युवतियां

होटल में चल रहा था सेक्स रैकेट पुलिस को होटल (Hotel) के दो कमरों से दो युवतियां व दो युवक…

4 hours ago

Search News

Subscribe A2znews For News, Jobs & lifestyle

Recent Posts